Soni Pariwar india

सप्ताह में कारोबार के पहले दिन बाजार में रही बड़ी गिरावट, सेंसेक्स ने 2002 अंक और निफ्टी ने 566 पॉइंट नीचे बंद हुए

  • गुरुवार को सेंसेक्स 997 अंक ऊपर 33,717 पर और निफ्टी 306 पॉइंट ऊपर 9,859 पर बंद हुआ था
  • अमेरिकी बाजार नैस्डैक 3.20 फीसदी गिरावट के साथ 284 अंक नीचे 8,604 पर बंद हुआ था

सप्ताह में आज कारोबार के पहले दिन बाजार बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ। सुबह सेंसेक्स 969.48 अंक नीचे और निफ्टी 326.40 पॉइंट नीचे खुला। आज दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान बाजार 2085.60 अंक नीचे गिर गया था, लेकिन बाद में ये 2002.27 अंक पर रुक गया। ये सेंसेक्स में 8वीं सबसे बड़ी गिरावट है। सेंसेक्स 2002.27 अंक या 5.94% ऊपर 31,715.35 पर और निफ्टी 566.40 पॉइंट या 5.74% ऊपर 9,293.50 पर बंद हुए। इससे पहले बीते सप्ताह कारोबार के आखिरी दिन गुरुवार, 30 अप्रैल को बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ था। सेंसेक्स 997.46 अंक ऊपर 33,717.62 पर और निफ्टी 306.55 पॉइंट ऊपर 9,859.90 पर बंद हुए थे।

बाजार में गिरावट के प्रमुख कारण

  • अमेरिका और चीन के बीच व्यापार के लेकर चल रहा विवाद 18 महीनों के लंबे इंतजार के बाद खत्म हुआ था, लेकिन दोनों वर्ल्ड इकॉनोमी पर ज्यादा दबाव बनाने और अपने देश की इकॉनोमी के सुधारने के लिए एक नए झगड़े में शामिल हो गए हैं।
  • मार्च तिमाही की अर्निंग ने अब तक दलाल स्ट्रीट पर निवेशकों को निराश किया है। गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज NSE -1.08%, हिंदुस्तान यूनीलिवर NSE -3.96% और टेक महिंद्रा, स्ट्रीट अनुमानों से बाहर रहने वाली लिस्ट में शामिल हो गए।
  • वैश्विक स्तर पर डॉलर की कीमत अधिक होने के चलते शेयर बाजार ट्रैक्शन और तेल के लिए संघर्ष करते रहे। चीन में कम व्यापार और जापान में हॉलिडे के चलते अमेरिकी स्टॉक 1.7 प्रतिशत की गिरावट और अमेरिकी कच्चा तेल 7 प्रतिशत गिर गया।
  • देश के अंदर कई शहरों और राज्यों में लॉकडाउन को तीसरा फेज शुरू हो गया है, जो 17 मई तक चलेगा। सरकार ने 130 जिलों को रेड जोन बताया है, जिसमें ज्यादातर महानगरीय शहर हैं। इन शहरों में भी अभी बिजनेस को शुरू करने के लिए इंतजार करना होगा।

बीएसई पर करीब 70 फीसदी कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही

  • बीएसई का मार्केट कैप 123 लाख करोड़ रुपए रहा
  • 2,597 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। इसमें 574 कंपनियों के शेयर बढ़त में और 1,841 कंपनियों के शेयर में गिरावट रही।
  • 28 कंपनियों के शेयर 1 साल के उच्च स्तर और 88 कंपनियों के शेयर एक साल के निम्न स्तर पर रहे।
  • 211 कंपनियों के शेयर में अपर सर्किट और 373 कंपनियों के शेयर में लोअर सर्किट लगा

बीएसई बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में भारी गिरावट

बैंक गिरावट (%)
RBL बैंक 10.00
ICICI बैंक 9.77
इंडसइंड बैंक 9.46
फेडरल बैंक 7.99
एक्सिस बैंक 7.91

स्वर्णकार समाज की खबरे देखने के लिए क्लिक करे 

23 मार्च को हुई थी इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट

सेंसेक्स में इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट इसी साल 23 मार्च, 2020 को हुई थी। इस दिन बाजार 3934.72 अंक गिरकर बंद हुआ था। इतना ही नहीं, मार्च के महीने में सेंसेक्स की अब तक की 6 सबसे बड़ी गिरावट भी दर्ज हैं। सेंसेक्स की 10 सबसे बड़ी गिरावट…

तारीख सेंसेक्स में गिरावट
23 मार्च, 2020 3934 अंक
13 मार्च, 2020 3389 अंक
12 मार्च, 2020 3204 अंक
16 मार्च, 2020 2919 अंक
9 मार्च, 2020 2467 अंक
22 जनवरी, 2008 2273 अंक
21 जनवरी, 2008 2062 अंक
24 अगस्त, 2015 1741 अंक
28 फरवरी, 2020 1526 अंक
6 मार्च, 2020 1460 अंक

 

दुनियाभर के बाजारों में रही गिरावट

क्लोजिंग बेल: सेंसेक्स 2002.27 अंक नीचे 31,715.35 पर और निफ्टी 566.40 पॉइंट नीचे 9,293.50 पर बंद हुआ।

शुक्रवार, 1 मई को दुनियाभर के ज्यादातर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए थे। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 2.55 फीसदी की गिरावट के साथ 622.03 अंक नीचे 23,723.70 पर बंद हुआ था। वहीं, अमेरिका के दूसरे बाजार नैस्डैक 3.20 फीसदी गिरावट के साथ 284.60 अंक नीचे 8,604.95 पर बंद हुआ था। दूसरी तरफ, एसएंडपी 2.81 फीसदी गिरावट के साथ 81.72 पॉइंट नीचे 2,830.71 पर बंद हुआ था। हालांकि, चीन का शंघाई कम्पोजिट नो प्रॉफिट-नो लॉस में रहा था। इधर फ्रांस, इटली, जर्मनी के बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुए थे।

कोरोना से देश और दुनिया में मौतें

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 42,505 हो गई है। इनमें 29,335 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 11,775 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 1,391 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। दूसरी तरफ, दुनियाभर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 3,566,004 हो चुकी है। इनमें 248,282 की मौत हो चुकी है। इसी दौरान 1,153,420 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 68,598 हो चुकी है।

 

source:-money bhaskar

Read Previous

अखिल भारतीय व्यापारी संघ लॉन्च करेगा भारतमार्केट, दावा- दुनिया का सबसे बड़ा ई-कॉमर्स प्लेटफार्म होगा,

Read Next

भारत से पहली फ्लाइट इस देश के लिए हो रही चालू, बुकिंग भी हो चुकी है शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat