Soni Pariwar india

कोरोना संकट के बीच भारतीय स्टार्टअप्स Virtual Wedding ​​​​​​​में तलाश रहीं संभावनाएं

  • 50 बिलियन डॉलर का है इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री
  • कई कंपनियों ने शुरू किया वर्चुअल वेडिंग का आयोजन
  • वेडिंग फोटोग्राफी पर भारतीय कर देते हैं 1 लाख तक खर्च

नई दिल्ली. कोविड-19 का कहर इस सदी का सबसे भयंकर कहर है। यह कब समाप्त होगा, फिलहाल इसका कोई अंदाजा नहीं लगा सकता लेकिन इस महामारी ने हमारे रहन-सहन का तरीका बदल दिया है। वर्चुअल बोर्ड मीटिंग, कोर्ट हियरिंग, ऑनलाइन एजुकेशन के साथ ही शादी भी वर्चुअल होने लगी है। यह कोरोना इफेक्ट ही है, जिसने शादी का दूसरा तरीका ईजाद करवा दिया। नए फिजिकल डिस्टेंसिंग और सेफ्टी नॉर्म्स के चलते अब कई जोड़े ऑनलाइन शादी के बंधन में बंध रहे हैं। इसी के मद्देनजर वर्चुअल शादी के लिए अब कई स्टार्टअप्स भी शुरू हो गए हैं। यह स्टार्टअप्स शादी कराने में पूरी तरह सहयोग करते हैं। स्टार्टअप्स डीजे, मेहंदी सेरेमनी के साथ ही संगीत का आयोजन कर रहे हैं। इसके साथ ही वर्चुअल वेडिंग फोटोग्राफी भी उपलब्ध करा रहे हैं।

इवेंट कंपनियां करा रही है वर्चुअल वेडिंग

वर्तमान संकट के बीच कई इवेंट कंपनियों ने वर्चुअल वेडिंग का आयोजन शुरू कर दिया है। मुंबई की एक स्टार्टअप कंपनी ‘पार्टीस्टार्टस’ ने अप्रैल माह से ही वर्चुअल पार्टी और शादी का आयोजन शुरू कर दिया था। ‘पार्टीस्टार्टस’ की संस्थापक Niyomi Zatakia ने कहा कि मुंबई में अब तक उन्होंने दो वर्चुअल इवेंट किइ हैं। अगले शादी के सीजन के लिए सभी वेट एंड वाच की स्थिति में हैं पर उन्हें भी शादी के कुछ रस्म वर्चुअल करने होंगे। कुछ बड़ी कंपनिया भी वर्चुअल वेडिंग इंडस्ट्री में शामिल होने की तैयारी कर रही है।

soni pariwar jyotish

शादी डॉट कॉम ने भी शुरू की किया वर्चुअल वेडिंग

दुनिया की सबसे बड़ी मैट्रीमोनी वेबसाइट शादी डॉट कॉम ने वर्चुअल वेडिंग की सुविधा शुरू की है। शादी डॉट कॉम ने वेडिंग फ्रॉम होम की शुरूआत की है। शादी डॉट कॉम के मार्केट डायरेक्टर अधिश जावेरी कहा कि हमने हाल ही में कई ऑनलाइन शादियां कराई हैं। जिसमें पंडित रायपुर मे थे, दुल्हन बरेली में थी और दुल्हा मुंबई में था। कंपनिया सभी शादी से जुड़े सभी कार्य करने का जिम्मा लेती है। इनमें रिश्तेदारों को ई कार्ड भेजना, गेस्ट का इंतजाम, पंडित की व्यवस्था करना, संगीत, डीजे, गिफ्ट शामिल हैं।

वर्चुअल आयोजन के लिए मिल रहे बुकिंग

वर्चुअल इवेंट स्टार्टअप ‘माइ इवेंट्ज’ की संस्थापक गीता राज रतवानी के मुताबिक, वर्चुअल शादी के दौरान शादियों में होने वाली सभी रस्में की जाती है। दोनों में ज्यादा अंतर नहीं होता है। गीता राज ने कहा कि हम वर्चुअल शादी की पूरी व्यवस्था करने का जिम्मा लेते हैं। पूरा इवेंट दुल्हा और दुल्हन को ध्यान में रखकर आयोजित किया जाता है। मुंबई की इस इवेंट कंपनी को मई में शुरू किया गया था। इसके बाद से लगातार इस कंपनी के पास देश के विभिन्न राज्यों से शादी-ब्याह, वेडिंग एनिवर्सरी, बर्थडे आयोजनों के लिए बुकिंग मिल रहे हैं। इंडियन एंजल नेटवर्क के सीओओ दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘एक निवेशक के रूप में हम स्टार्टअप्स में कुछ नया कर सकते हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि शादी के स्टार्टअप इन कठिन समय के दौरान कैसे नया करते हैं और एक व्यवहार्य व्यवसाय मॉडल बनाते हैं।’

ये भी पढ़ें:बीकानेर बी जे पी OBC मोर्चा अध्यक्ष हुकमा राम जी कांटा का किया सम्मान

जानिए, कितना बड़ा है इंडियन वेंडिंग मार्केट का साइज

KPMG रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के बाद भारत को दुनिया का दूसरा सबसे महंगा और बड़ा वेडिंग मार्केट माना जाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री का साइज 40-50 बिलियन डाॅलर के आसपास का है। वहीं, अमेरिका का वेडिंग मार्केट 70 बिलियन डाॅलर का है। भारत में एक शादी पर औसतन 5 लाख से लेकर 5 करोड़ रुपए तक का खर्च आता है। वहीं, भारत में एक प्री-वेडिंग शूट के साथ वेडिंग फोटोग्राफी पर औसतन 15,000 से लेकर 1 लाख तक का खर्च आता है। भारतीय एक डेस्टिनेशन वेडिंग पर कम से कम 50 से 70 लाख रुपए तक खर्च कर देते हैं।

soni pariwar india

source:-money bhaskar

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

Read Previous

जूम 5.0 /आज से बदल जाएगा जूम ऐप, प्राइवेसी सर्विस में किया गया सुधार, कंपनी ने कहा- अब कंटेंट सुरक्षित रहेगा और हैक नामुमकिन

Read Next

श्री श्याम संघ बीकानेर को सम्मानित किया 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat