Soni Pariwar india

भारत की जेम्स-ज्वैलरी सेक्टर को होने जा रहा है बड़ा फायदा, जानिए क्या है वो वजह

जीजेईपीसी के चेयरमैन कॉलिन शाह ने कहा कि अमेरिका के इस कदम के पीछे की बारीकियों में जाए बगैर, मेरा मानना है कि इसमें देश के रत्न एवं आभूषण कारोबार के लिए अवसर पैदा करने की संभावना है.

Gems And Jewellery News: भारत की जेम्स और ज्वैलरी सेक्टर को आने वाले दिनों में बड़ा फायदा होता हुआ दिखाई पड़ रहा है. अमेरिका की हांगकांग के साथ तरजीही आर्थिक संधि खत्म होने से भारतीय रत्न-आभूषण उद्योग (Gems-Jewellery Industry) को वहां के बाजार में बढ़त बनाने में मदद मिलेगी. रत्न और आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (Gems and Jewellery Export Promotion Council-GJEPC) ने यह बात कही है. जीजेईपीसी के चेयरमैन कॉलिन शाह ने कहा कि अमेरिका के इस कदम के पीछे की बारीकियों में जाए बगैर, मेरा मानना है कि इसमें देश के रत्न एवं आभूषण कारोबार के लिए अवसर पैदा करने की संभावना है.

स्वर्णकार समाज की खबरे देखने के लिए क्लिक करे 

हांगकांग-अमेरिका की संधि खत्म होने से भारत को होगा फायदा
उन्होंने कहा कि अमेरिका के लिए भारत, फ्रांस और इटली के बाद हांगकांग और चीन रत्न एवं आभूषण का आयात करने वाले चौथा बड़ा देश हैं. वर्ष 2019 में हांगकांग और चीन ने क्रमश: 98.08 करोड़ डॉलर और 2.63 अरब डॉलर के रत्न और आभूषण अमेरिका को निर्यात किए. शाह ने कहा कि हांगकांग के साथ तरजीही संधि खत्म होने से भारत के लिए नए ऑर्डर और कारोबारी अवसर पैदा होंगे. इसके बाद वहां से विनिर्माण कारखाने भी भारत आ सकते हैं.

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करे

2019-20 में भारत ने अमेरिका को 9.17 अरब डॉलर का रत्न-आभूषण का किया था एक्सपोर्ट
उन्होंने कहा कि कई भारतीय कंपनियों के कार्यालय हांगकांग में है. ऐसे में कारोबार प्रभावित होने के चलते उनके देश वापस आने की संभावना है. जीजेईपीसी के मुताबिक भारत ने 2019-20 में अमेरिका को 9.17 अरब डॉलर और 2018-19 में 10.48 अरब डॉलर के रत्न-आभूषण का निर्यात किया था. (इनपुट भाषा)

 

Source Link :-news nation tv

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

 

Read Previous

एक माह पूर्व हुई 34 लाख की चोरी के सम्बन्ध में दिया SP को दिया ज्ञापन

Read Next

Samsung Galaxy A21s का 4GB रैम वेरिएंट हुआ सस्ता, अब इस कीमत में हो रहा है उपलब्ध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat