Soni Pariwar india

भारतीय कढ़ी, जानिए क्या है कढ़ी के फायदे

अभी कोरोना वायरस महामारी चारों तरफ फैली हुई हैं, इस बीमारी में सर्दी-खांसी, छींक, बुखार आदि होना संभव है। ऐसे समय में हम नित-नए प्रयोग अपनाते रहते हैं, लेकिन कितना कुछ करने के बाद भी हमारी सर्दी-खांसी, छींक आदि जल्दी ठीक ही नहीं होती है। आपके परिवार वाले और आप इस सर्दी से परेशान होते रहते हैं और ये परेशानी दिनोदिन बढ़ाती रहती है।

आइए जानते हैं कैसे बनानी है हमें यह भारतीय कढ़ी? यहां प्रस्तुत है कढ़ी की सामग्री, विधि सब कुछ। तो लीजिए गरमा-गरम कढ़ी का मजा और दूर भगाइए अपनी सर्दी को और जल्दी हो जाइए स्वस्थ।
सामग्री :
250 ग्राम ताजा दही, 50 ग्राम बेसन, 1 चम्मच अदरक की प्यूरी, 2 हरी मिर्च, 2 टेबल स्पून घी, 1 चुटकी हींग, कढ़ी पत्ते, 1/2 टी स्पून राई-जीरा, नमक और 2-3 पिसी लौंग, थोड़ा-सा हरा धनिया बारीक कटा हुआ।
विधि :
सबसे पहले दही को रवई से फेंटकर उसमें बेसन, नमक, पिसी लाल मिर्च और 2 कप पानी मिलाकर मिक्स कर लें। एक बर्तन में घी गर्म करें। राई-जीरा, कढ़ी पत्ता, अदरक प्यूरी, हरी मिर्च और हींग डालें। राई तड़तड़ाने पर दही-बेसन का घोल डालें और लगातार हिलाते हुए पकाएं।
अब धीमी आंच पर कढ़ी को तब तक पकाएं, जब तक वो अच्छी तरह गाढ़ी ना हो जाएं और उसमें से खुशबू ना आने लगे। लीजिए अब तैयार है स्वादिष्ट भारतीय कढ़ी। अब हरा धनिया बुराकाएं और इसे चपाती के साथ गरमा-गरम परोसिए।
फायदे- अगर आप गरमा-गरम कढ़ी का उपयोग पीने के लिए करते हैं तो आपकी सर्दी बहुत जल्द ही ठीक हो सकती है। यह कढ़ी आपको सर्दी-खांसी, बुखार को जल्दी दूर भगाकर सेहतमंद बनाने में मददगार साबित होगी। कढ़ी में उपयोग किए गए कढ़ी पत्ते में पर्याप्त मात्रा में विटामिन A पाया जाता है जिसकी वजह से यह आपकी आंखों की देखभाल के लिए उपयोगी है। यह शुगर तथा कब्ज की शिकायत दूर करने में भी सहायक है।
source:-webdunia
Read Previous

3 मई 2020 : आपका जन्मदिन

Read Next

3 मई 2020 का पंचांग, कब आरंभ हो रही मोहिनी एकादशी की तिथि, जानें राहु-काल का समय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat