Soni Pariwar india

जुकिनी जूस से डरता है कैंसर भी, दोगुणी तेजी से होगा वेट लूज

शरीर को बीमारियों से बचाएं रखने के लिए अच्छी डाइट लेना बेहद जरूरी होता है। ऐसे में रोजाना ताजी व पोषक गुणों से भरपूर हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए। इनमें से ही एक सब्जी है जुकिनी जिसे तोरी या तुरई भी कहा जाता है। इसमें विटामिन, कैल्शियम, आयरन, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होने से शरीर को बीमारियों के लगने का खतरा कई गुणा कम रहता है। आप इसका सब्जी या जूस की तरह सेवन कर सकते है। तो चलिए आज हम आपको इससे मिलने वाले फायदों के साथ इससे तैयार होने वाली 2 जूस रेसिपी बताते है।

1. जुकिनी और स्ट्रॉबेरी जूस

 

सामग्री

जुकिनी- 1 (मीडियम साइस की)
स्ट्रॉबेरी- 1 कप
नींबू- 1/2 (रस)

विधि

. सबसे पहले जुकिनी यानि तोरी को छिलकर काट लें।
. अब स्ट्रॉबेरी को काटें।
. अब तीनों चीजों को मिक्सी में पीस लें।

आपका जुकिनी जूस बन कर तैयार है। आप चाहे तो इसमें अपने स्वादानुसार चीनी या शहद भी मिला सकते हैं। 

2. जुकिनी और खीरा जूस

सामग्री

खीरा- 1
जुकिनी- 1 (मीडियम साइस की)
नींबू- 1 (रस)

विधि

. सबसे पहले खीरा और जुकिनी को छिलकर टुकडो़ं में काट लें।
. अब तीनों चीजों को मिक्सी में डालकर पीस लें।

आपका जूस बन कर तैयार हैं। इसे पीने का मजा लें। 

तो चलिए अब जानते है जुकिनी खाने से मिलने वाले अनगिनत फायदों के बारे में…

1. वजन कम करने में करें मदद

जुकिनी में फाइबर अधिक मात्रा में मौजूद होता है। इसके सेवन से पेट लंबे समय तक भरा रहता है। ऐसे में ओवर ईटिंग की परेशानी से छुटकारा मिलता है। साथ ही भूख जल्दी न लगने से वजन कंट्रोल में रहता है।

2. दिल के लिए फायदेमंद

एक्सपर्ट्स के अनुसार, इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स, बीटा-कैरोटीन तत्व दिल को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है। ऐसे में दिल संबंधी बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है।

3. कोलन कैंसर का खतरा करें कम

इसमें मौजूद ल्यूटिन नामक पोषक तत्व शरीर में डैमेज सेल्स को रिपेयर करने में मदद करता है। साथ ही कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं को रोक कर कोलन कैंसर के होने के खतरे से बचाता है।

4. डायबिटीज करें कंट्रोल

इसमें मौजूद विटामिन, आयरन, कार्बोहाइड्रेट आदि तत्व शरीर में शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करते हैं। इसके साथ नियमित रूप से इसका सेवन करने से डायबिटीज होने का खतरा कुछ गुणा कम हो जाता है।

5. कोलेस्ट्रॉल करें कम

जुकिनी में फाइबर अधिक मात्रा में होने से यह कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकता है। ऐसे में दिल से संबंधित बीमारियों के होने का खतरा कई गुणा कम रहता है।

6. पाचन तंत्र करें मजबूत

पौषक तत्वों से भरपूर जुकिनी का सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होने में मदद मिलती है। ऐसे में पेट से जुड़ी परेशानियों से भी राहत मिलती है।

7. अस्थमा से दिलाए राहत

इसमें विटामिन, कैल्शियम, फाइबर, एंटी- ऑक्सीडेंट, एंटी- इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने से सांस से जुड़ी परेशानियों से राहत मिलती है। इसलिए खासतौर पर अस्थमा के मरीजों को इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।

8. आंखों को रखें स्वस्थ

बढ़ती उम्र में आंखों की रोशनी भी कम होने लगती है। ऐसे में जुकिनी का सेवन करना काफी फायदेमंद होता है। एक रिसर्च के मुताबिक, ल्यूटिन और जेक्सैथीन से भरपूर सब्जियों को खाने से बढ़ती उम्र के साथ आंखों से जुडा रोग जैसे कि एज रिलेटेड मैक्युलर डीजेनेरेशन (Age Related Macular Degeneration) के होने के खतरे को कम करता हैं। इसतरह जुकिनी में भी ये तत्व पाएं जाने से इसका सेवन करना आंखों के लिए फायदेमंद होता है।

source link :-punjab kesari

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

Read Previous

इटारसी के हरिओम सोनी ओबीसी इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स इंडस्ट्री एंड एग्रीकल्चर के समन्वयक सयोंजक नियुक्त हुवे।

Read Next

74वें स्वतंत्रता दिवस पर उपखण्ड प्रसाशन द्वारा पीपाड़ स्वर्णकार समाज बन्धुओं को किया सम्मानित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat