Soni Pariwar india

नीम के प्रयोग से कील-मुंहासों से लेकर कैंसर जैसे रोगों से भी बच सकते हैं

औषधीय गुणों से भरपूर नीम अपनी इसी ठंडी प्रकृति की वजह से त्वचा को एक सुखद उपचार प्रदान करता है. इसके अलावा यह लिवर के कार्यों में भी सुधार करता है. आइए आज हम आपको नीम के स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताते हैं.

अगर आपको बहुत सारी स्वास्थ्य समस्याओं का एक “प्राकृतिक समाधान” मिले, तो आपको आश्‍चर्य होना स्वभाविक है. ऐसे ही नीम को आयुर्वेद में ‘सर्व रोग निवारिणी’ का नाम दिया गया है. चाहें पेट की समस्या हो या त्‍वचा की नीम आपको हर रोग से आसानी से छुटकारा दिला सकता है. वैस तो नीम स्वाद में कड़वा होता है परंतु यह आपके शरीर को ठंडा है और पित्‍त और कफ दोषों से आपके बचाने में मदद करता है. अपनी इसी ठंडी प्रकृति की वजह से यह त्वचा को एक सुखद उपचार प्रदान करता है. इसके अलावा यह लिवर के कार्यों में भी सुधार करता है, तो आइए आज हम आपको नीम के स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताते हैं.

मुंहासों से छुटकारा दिलाए
अगर आप मुंहासे की समस्या से परेशान हैं तो नीम आपके लिए बेहद लाभकारी है. नीम में जीवाणुरोधी गुण पाया जाता है, जिससे दोबारा मुंहासे नहीं आते हैं. इसके अलावा इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मुंहासों के दाग और निशान को हटाने में मदद करते हैं. जिससे आपकी त्वचा हमेशा साफ और ताजा दिखती है.

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करे

इस्तेमाल करने का तरीका
मुट्ठी भर नीम के पत्तों को पानी से धो कर 4 भाग पानी और एक भाग पत्तों को लें. फिर इसे तब तक उबालें जब तक कि पानी हरा न हो जाए. अब जब पानी थोड़ा ठंडा हो जाए तो इससे अपना चेहरा धो लें. इसके अलावा आप कुछ नीम के पत्तों को पीस कर मुंहासों पर भी लगा सकते हैं. फिर सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें. दिन में दो बार आप नीम के पानी या नीम के पेस्ट का उपयोग कर सकते हैं.

कैंसर से बचाव करे
नीम के पत्ते प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया में सुधार करके कैंसर के उपचार में सहायक होते हैं. यह शरीर में मुक्त कणों को खत्म करते हैं और कोशिका विभाजन कर सूजन को कम करते हैं. इसके यौगिक कीमोथेरेपी में मदद करते हैं.

इस्तेमाल करने का तरीका
इसके लिए आप 4 से 5 नीम के पत्तों अच्‍छी तरह से धोकर हर रोज सुबह खाली पेट चबाकर खाएं. इससे आप कैंसर के अलावा पेट के कई अन्य रोगों से बच सकते हैं.

ये भी पढ़ें:सोनी परिवार इंडिया वेब न्यूज़ पोर्टल की तरफ से कोविड 19 के कर्मवीर योद्धाओ का सम्मान चरण 3 बीकानेर

दांत और मसूड़ों को सुरक्षित रखें
नीम की दातुन करने से आपके दांतों और मसूड़ों की सभी समस्‍याएं खत्‍म हो सकती हैं. नीम में एंटीमाइक्रोबायल गुण पाए जाते हैं जो बुरी सांस, दांतों का पीलापन, मुंह के अल्सर और पायरिया जैसे रोगों को खत्‍म करने में सहायक हैं. इसे आप अपने दैनिक मौखिक देखभाल का एक हिस्सा बना सकते हैं.

स्वर्णकार समाज की खबरे देखने के लिए क्लिक करे 

इस्तेमाल करने का तरीका
इसके लिए आप एक मध्यम आकार की साफ नीम की टहनी लें. फिर इसे एक तरफ टूथ-ब्रश की तरह बना लें. अब इसका उपयोग करें और सादे पानी से कुल्‍ला करें. अगरआपको दातून का स्‍वाद पसंद नहीं हैं तो आप इस पर टूथपेस्‍ट लगाकर भी दांतों को साफ कर सकते हैं.

source:-abplive

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

Read Previous

Patym इस्तेमाल करते हैं? अब सरकारी सब्सिडी सीधे आपके पेटीएम सेविंग अकाउंट में

Read Next

फोटोग्राफी लवर्स को लुभाएगा Motorola का नया one fusion plus स्मार्टफोन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat