Soni Pariwar india

विदेशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी, 7 मई से शुरू होगा भारत का सबसे बड़ा रेस्क्यू मिशन

7 मई से ऐसे सभी भारतीय जो विदेशों में फंसे हैं उन्हें फ्लाइट और शिप से भारत लाया जाएगा।

विदेशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी के लिए भारत सरकार सबसे बड़ा मिशन शुरू करने वाली है। 7 मई से ऐसे सभी भारतीय जो विदेशों में फंसे हैं उन्हें फ्लाइट और शिप से भारत लाया जाएगा। इस सुविधा का जो फायदा उठाना चाहते हैं उनको इसके लिए पेमेंट करना होगा।  इसके लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर तैयार किया जा रहा है । इसके लिए सभी दूतावासों को लिस्ट तैयार करने को कहा गया है। विदेश से आने वाले लोगों को बोर्डिंग से पहले मेडिकल स्क्रीनिंग करानी होगी। जिन लोगों में लक्षण नहीं होंगे उनकी ही वापसी  होगी।  भारत आने पर आरोग्य सेतु ऐप में रजिस्टेशन जरूरी होगी। आने के बाद 14 दिनों तक इनको क्वारंटीन में रहना होगा।

गृह मंत्रालय ने कहा है कि विदेश में फंसे भारतीयों को वापस आने में भारत सरकार उनकी सहायता करेगी। बहुत आवश्यक होने पर ही उन्हें स्वदेश आने की अनुमति दी जाएगी और यह चरणबद्ध तकरीके से किया जाएगा।

फॉरेन मिनिस्ट्री और सिविल एवीएशन मिनिस्ट्री जल्द ही अपनी वेबसाइटों के जरिए से इस पूरी प्रक्रिया का डिटेल देंगे। गृह मंत्रालय ने कहा कि राज्यों को सलाह दी जा रही है कि वे राज्यों में आने वाले नागरिकों के लिए अस्पतालों और क्वारंटीन सेंटरों की पूर्व व्यवस्था कर लें।

source:-money control

Read Previous

सोमवार को भारी गिरावट के बाद संभले शेयर बाजार, सेंसेक्स में 432 अंक की तेजी

Read Next

जूलरी इंडस्ट्री को डर, और देर हुई तो चीन या थाइलैंड का हो जाएगा फायदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat