Soni Pariwar india

वैश्विक महामारी संकट के बीच इस बार डिजिटल होगा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, जानें कैसे मानेगा

पूरे विश्व में फैली कोरोना महामारी के बीच इस बार 21 जून को मनाए जा रहे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरी तरह डिजिटल होगा। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन में इस साल सोचा है कि इस बार योग दिवस मनाने के लिए व्यायाम, प्राणायाम और ध्यान के लिए एक विशेष योग मॉड्यूल विकसित किया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को पूरी तरह से डिजिटली तौर पर मनाया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ संक्रमण के कारण प्रतिबंध होने और सामाजिक दूरी को देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस इस साल डिजिटल तौर पर मनाया जाएगा।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन ने कहा कि मिशन ऐसे वक्त में 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाएगा। जब पूरी दुनिया में एक वैश्विक महामारी फैली हुई है। मिशन ने कहा कि योग गुरुओं के साथ मिलकर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य के लिए घर पर योग एक विशेष तरह का अभियान चलाया जाएगा। ताकि लोग अपने घर बैठकर योग करें योग के बारे में जान सकें।

इस साल मनाए जा रहे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर मॉड्यूल में वैज्ञानिक आधार पर उन सुरक्षित योगाभ्यास और योग आसनों को शामिल किया है। जिसे हर वर्ग के लोग अपने घर पर आराम से बैठकर कर सकते हैं। इस मॉड्यूल में योग अभ्यास, प्राणायाम और ध्यान को शामिल किया गया है। ताकि ऐसी महामारी के बीच लोग शारीरिक मानसिक और धार्मिक रूप से फायदा मिल सके।

ये भी पढ़ें:सोनी परिवार इंडिया वेब न्यूज़ पोर्टल की तरफ से कोविड 19 के कर्मवीर योद्धाओ का सम्मान चरण 3 बीकानेर

इसे विभिन्न डिजिटल मंचों पर 19 जून को वेबकास्ट किया जाएगा। मॉड्यूल में सद्गुरु जग्गी वासुदेव का ‘श्वसन प्रणाली के स्वास्थ्य के लिए योग’ विषय पर सत्र शामिल होगा। इसके अलावा भक्ति केंद्र के योग गुरु किशोर चंद्र और योग आचार्य स्वामी शिवदासनंद के सत्र भी होंगे।

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करे

कैसे हुई योग दिवस की शुरुआत

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत हुई थी। उन्होंने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र की महासभा में एक साथ योग करने का प्रस्ताव रखा था। जिसको कई देशों ने माना और कहा था कि जो सभी के लिए जरूरी है। जिसके बाद महासभा ने 11 दिसंबर 2014 को भारत के इस पहल को स्वीकार किया और 21 जून को हर साल तभी से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस अस्तित्व में आया।

source:-haribhoomi

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

 

Read Previous

बीकानेर मैढ़ स्वर्णकार हस्तशिल्प समिति की हुई प्रथम बैठक

Read Next

कोरोना संकट के बावजूद इस साल 56% ट्रैवलर्स लाॅन्ग हॉलिडेज पर जाना चाहते हैं, हर चार में से एक ने कहा मौका मिलते ही निकल जाएंगे ट्रिप पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat