Soni Pariwar india

यूट्यूब ने ‘चैप्टर्स’ नाम से नया फीचर शुरू किया, जानिए इसके फायदे

यूट्यूब ने अपने यूज़र्स को अधिक जरूरी भाग पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करने के लिए वीडियो चैप्टर फीचर शुरू किया है. भारत में माइक्रो वीडियो प्लेटफार्म से मिल रहे जोरदार टक्कर की वजह से यूट्यूब पिछले कुछ दिनों से अपने यूज़र्स के लिए नए-नए फीचर्स पेश कर रहा है.

हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप में जुड़ने के लिए क्लिक करे

यूट्यूब की चैप्टर सुविधा वीडियो क्रिएटर को अपने कंटेट को बेहतर ढंग से व्यवस्थित करने में भी सक्षम बनाएगी. चैप्टर फीचर से विशेष रूप से लंबे वीडियो के मामले में बहुत मदद मिलने की उम्मीद है.

चैप्टर्स की मदद से ऐसे वीडियो में यूज़र कुछ हिस्से को छोड़ सकेंगे जो उन्हें बेकार लग सकते हैं. वीडियो क्रिएटर्स के लिए यूट्यूब ट्विटर हैंडल ने चैप्टर की सुविधा आधिकारिक तौर पर पेश कर दी है. कंपनी ने कहा कि जब चैप्टर इनेबल होते हैं, तो दर्शक ज़्यादा वीडियो देख सकते हैं और औसतन ज़्यादा बार उस क्रिएटर के पास आते हैं.

वीडियो चैप्टर फीचर को यूट्यूब ने अप्रैल में लॉन्च किया था. डेस्कटॉप पर यूट्यूब यूज़र को यह पता होगा कि वे जो वीडियो देख रहे हैं, अगर उसके चैप्टर्स हैं तो जब वे बार पर माउस घुमाएंगे तो यह वीडियो प्रोग्रेस को इंडिकेट करेगा.

यूट्यूब की चैप्टर सुविधा से पहले यूज़र को किसी वीडियो में खास पॉइंट पर जाने के लिए नेविगेशन बार के माध्यम से जाना होता था. चैप्टर के थंबनेल स्क्रीन के सबसे निचले हिस्से में दिख जाते हैं, यह नेविगेशन के नेविगेशन बार के पास ही होते हैं और यह टाइम स्टैंप दिखाते हैं. वीडियो क्रिएटर भी इस फीचर का यूज करके अपने वीडियो को ज्यादा इंटरेस्टिंग बना सकते हैं.

हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करे

गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब ने हाल ही में अपने प्लेटफॉर्म के लिए एक नया फीचर बेड टाइम रिमाइंडर पेश किया है. यह आपकी नींद को ध्यान में रखकर उतारा गया है. इस फीचर का मकसद देर रात तक यूट्यूब इस्तेमाल करने वालों को अलर्ट भेजना है, ताकि वे स्क्रीन पर ज़्यादा समय न बिताकर समय पर सो सकें. इससे यू ट्यूब यूजर को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने में मदद मिलेगी.

डेली राशिफल देखने के लिए क्लिक करे

यूट्यूब की यह पहल डिजिटल वेल बीइंग के हिस्से के रूप में शामिल है, जो सोते समय यूज़र्स को याद दिलाने के लिए बढ़िया फीचर है. इससे यूज़र्स को उनके स्क्रीन पर बिताने वाले समय में कटौती करने में मदद मिलेगी. यूट्यूब ने कहा कि आप वीडियो देखने से रोकने के लिए विशिष्ट समय निर्धारित कर सकते हैं और यह तय कर सकते हैं कि कब आपको बिस्तर पर जान चाहिए.

source:-economictimes

Soni Pariwar India पर सबसे पहले स्वर्णकार समाज की खबर पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर व् इंस्टाग्राम पर फॉलो करें. देखिए अन्य लेटेस्ट खबरें भी

Read Previous

स्वर्णकार कारीगरों के समक्ष परिवार पालने का सकंट, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम दिया ज्ञापन

Read Next

Jewellery industry in coronavirus-ravaged Mumbai stares at uncertain future after reopening

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat